हमारी नवीनतम पोस्टें :


12 मई, 2011

राजस्थान की सुन्दरता मान सम्मान के किस्से सूना रहे हैं रतन सिंह

  राजस्थान की धरती पर जन्मे ,एक क्षत्रिय परिवार के रतनसिंह शेखावत ,चाहे इन दिनों, दिल्ली में रहकर अपना रोज़गार चला रहे हों ,लेकिन राजस्थानी धरती से ,राजस्थान की मिटटी से, आज भी उनका अनोखा रिश्ता है ,प्यार का समर्पण का रिश्ता है ,और इसीलियें, उन्होंने अपनी लेखनी से राजस्थान की राजपूती आन बान शान के सभी साहसिक किस्से और सोंदर्य का रूप वर्णन अपने ब्लॉग ज्ञान दर्पण  में भर दिया है ..................
रतन सिंह शेखावत ने सीकर के जिले के भगतपुरा गाँव में एक जागीरदार राजपूत परिवार के यहाँ  जन्म लिया और खामा घनी से लेकर राजपूती आन बान शान के सभी तोर तरीके सीखे,सारा देश जानता है के राजाओं का राज्य राजस्थान देश भर में अपनी ताकत,अपना साहस , अपने बलिदान, वफादारी ,राष्ट्रीयता के लियें अलग पहचाना बनाये हुए हैं यहाँ की सुन्दर हवेलियाँ, सुरक्षित दुर्ग, और राजसी ठाठ बाठ वाले महल, देखने के लियें आज भी देश विदेश से पर्यटक आ रहे हैं ,और आपणों राजस्थान के किस्से ,यहाँ से लेकर मदमस्त होकर जा रहे हैं ....................
रतन सिंह शेखावत एक ऐसे ब्लोगर हैं ,जिन्होंने राजस्थान के इतिहास,यहाँ के पर्यटन, यहाँ के सोदर्य को जीवंत कर दिया है ,और ऐतिहासिक धरोहर के साथ साथ ,ऐतिहासिक गाथाओं को जो वर्णन दिया है, उसने तो राजस्थान सरकार ,पर्यटन विभाग और शोधकर्ताओं की सारी मुसीबते खत्म कर दी हैं, कोई छात्र अगर राजस्थान की हवेलियों, यहाँ की लोक कथा ,राजस्थान के राजपूतों की बहादुरी के किस्से,पर शोध ग्रन्थ लिखना चाहता है, तो बस ज्ञान दर्पण देख ले उसकी सारी ख्वाहिशें पूरी हो जायेंगी और इसके लियें भाई रतन सिंह शेखावत जी ने जो महनत जो लगन से इस ज्ञान दर्पण में वर्ष २००८ से ब्लोग्गिं की है ,उससे तो राजस्थान और राजस्थान का राजपूत,क्षत्रिय समाज भाई रतन सिंह शेखावत का ऋणी हो गया है, इनके इस ब्लॉग को देख कर लगता है के भाई रतन सिंह जी ने अपने राजपूत होने ,और राजपूत के घर में जन्म लेने,का ऋण इस ब्लोगिंग से उतार दिया है ..एक ड्रेस डिजायनिंग कम्पनी दिल्ली में काम करने वाले भाई रतन सिंह जी अपनी समस्त जिम्मेदारियों के बाद ब्लोगिग्न का वक्त निकालते हैं ,और इन्होने नोव्म्बर २००८ से जो ब्लोगिग्न की बस फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा इनके आलेख कई अख़बारों में भी प्रकाशित हुए है ,पूर्ण रूप से क्षत्रिय संस्क्रती के समर्थक भाई रतनसिंह शेखावत क्षत्रिय राजपूत समाज के कल्याणकारी सेवा कार्यों से भी जुड़े हुए हैं और सामाजिक कार्यों में लगातार जुड़े रहने से यह राजपूत समाज के हीरो तो है ही ,लेकिन राजपूत ब्लोगिग्न के भी सुपर स्टार हीरो बन गए हैं, अब तक इनका अनुसरण २४८ लोग कर रहे हैं और हजारों हजार र्लोग इनके ब्लॉग को बढ़े चाव ,बढ़े विशवास के साथ पढ़ रहे हैं ,अपने विचार और प्यार की टिप्पणियाँ इस ब्लॉग पर दे रहे हैं ..........अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें